क्या है एल्गो ट्रेडिंग? | Algorithmic trading | Algo Trading | hindi

single-image

क्या है एल्गो ट्रेडिंग? | Algorithmic trading

एल्गो ट्रेडिंग “Algorithmic trading” मूल रुप से एक सिस्टम पर आधारित ट्रेडिंग होती है। जिसमें सिस्टम में फार्मूले फिट कर दिये जाते है। और उसी के आधार पर आपकी ओर से मशीनें शेयर्स को खरीदने – बेचने का काम करती हैं। एल्गो ट्रेडिंग एक प्रक्रिया होती है, जिसमें कंप्यूटर प्रोग्रामिंग का इस्तेमाल करते हुए एक तय दिशानिर्देशों का पालन किया जाता है। इसमें प्रॉफिट के साथ तेजी से Buy-Sell की प्रक्रिया को तकनीकी आधार पर सेट किया जाता है। मुख्यतः बड़े देशों में एल्गो ट्रेडिंग बहुत ज्यादा  प्रचलन में है। एल्गोरिदमिक ट्रेडिंग को ब्लैक बॉक्स ट्रेडिंग, ऑटोमेटेड ट्रेडिंग और एल्गो ट्रेडिंग “algo trading” के नाम से भी जाना जाता है।

एल्गोरिदमिक  ट्रेडिंग (Algorithmic Trading), ट्रेडिंग करने का सबसे प्रभावी तरीका है, क्योंकि एल्गो ट्रेडिंग “algo trading” में मनुष्य के कारण होने वाली गलतियों से प्रभावित नहीं होता है। एल्गो ट्रेडिंग गति और सटीकता के साथ काम करता है। एल्गो ट्रेडिंग में, ट्रेडर को ट्रेडिंग के अवसर की प्रतीक्षा करने के लिए कंप्यूटर स्क्रीन पर पर लगातार नहीं देखना पड़ता है। जब भी ट्रेडिंग का अवसर बनता है तो एल्गोरिदम अपने आप से पता लगता है और निवेशक को संकेत देता है। एल्गोरिदमिक ट्रेडिंग, ट्रेडर को भावनात्मक प्रभावों से होने वाली हानि से बचता है।

एल्गो ट्रेडिंग “Algo Trading” की गति-

एल्गोरिदमिक ट्रेडिंग (Algorithmic Trading), इतनी स्पीड के साथ Buy-Sell का फैसला लेता है, जो की आम आदमी के बस की बात नहीं है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि ट्रेडिंग के दौरान कभी-कभी हमारे सामने मानव इमोशन आ जाते हैं और हम सही एवं तेज फैसला लेने में असफल होते हैं। Algorithmic trading India में तो नया है लेकिन फिर भी अल्गो ट्रेडिंग ने नेशनल स्टॉक एक्सचेंज NSE पर होने वाले ट्रेडो के 40% भाग प्राप्त कर लिया है। अल्गो ट्रेडिंग बड़े निवेशकों और उच्च संस्थागत निवेशकों एवं उन निवेशकों के लिए भी सही जिनके पास समय की कमी है।

कैसे होती एल्गो ट्रेडिंग (Algorithmic trading)की रणनीति तैयार? – 

एल्गो ट्रेड़िंग का मुख्य फोकस पैसे कमाने की रणनीति तैयार करना होता है, एल्गो ट्रेड़िंग पूर्ण रूप से पारंपरिक ट्रेड़िंग रणनीतियों पर ही काम करती है। एल्गो ट्रेड़िंग में इस तरह की रणनीति फिट की जाती है – Trend Following Strategy, Mean Reversal strategy, Arbitrage, Statistical Arbitrage or Market Making.

नोट – यदि आप भारत में Stock /MCX  ट्रेडर हो और आप  algorithmic trading स्टार्ट करना चाहते है तो संपर्क जरूर करे।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may like